Hindi (हिन्दी)


Aniruddha Bapu's Grace - Rajeshsinh Kakde's Experience - शादी के बाद छ: महिनों में ही पति की मॄत्यु का भविष्य बताने वाले ज्योतिषों के कथन के बाद भी बापू ने कहा की तुम बाबा आजी बनोगे जन्म पत्रिका मिलती हो या नही परन्तु यदि सदगुरु अनिरुद्ध बापू ने कहा है कि यह शादी हो जायेगी और सब कुच ठीक ही होगा तो वैसा ही होगा, यह विश्वास दिलाने वाला अनुभव कथन कर रहे है राजेशसिंह काकडे ।



Aniruddha Bapu's Grace - Satyendrasinh Rana's Experience - "कर्म के अटल सिद्धांत के अनुसार प्रारब्ध वश आत्महत्या तक का विचार करने वाले सत्येंद्रसिंह राणा बता रहे है कि कैसे बापू के सानिध्य में आते ही उनकी जीवननौका किस तरह से सुचारु रुप से चलने लगी। बापू के साक्षात दर्शन न भी कर सके तो फ़ोटो के सामने बात करने पर भी बापू हमारी समस्याओं को दूर कर ही देते है । इसी तथ्य को उजागर करने वाला है यह अनुभव ।



Aniruddha Bapu's Grace - Lokmanisinh Banjade's Experience - "बापू की उदी, नामस्मरण और रामनाम बही लिखने से ही उनके असंभव लगने वाले काम कैसे संभव होते चले गये, यह बता रहे है लुम्बिनी, नेपाल निवासी लोकमनसिंह बनजाड। "




Aniruddha Bapu's Grace - Prajktaveera Joshi's Experience -  "सदगुरु - बापू की पूजा, उपासना, पादूका पूजन करते ही घरका नकारात्मक वातावरण सकारात्मक होने लगा और हमारे परिवार का समग्र विकास हो रहा है, यह बता रही है इंदौर की प्राजक्तावीरा।"


Aniruddha Bapu

नामस्मरण करते ही असंभव को संभव कैसे बना देते हैं श्री अनिरुद्ध बापू, यही अनुभव बता रहे हैं श्री अपूर्व सरकार 






एक बार विश्वासपूर्वक अनिरुद्ध बापू को पुकारा जाय तो बापू प्यासे भक्त के लिये पानी भी लेकर आते हैं, मन मे प्रश्न उठते ही उनका हल प्रवचन के माध्यम से बता देते हैं और बडे से बडे आर्थिक संकट मे भी सहाय्यता करके नया रास्ता दिखा देते है सद्गुरु अनिरुद्ध बापू, इसी आशय का स्वयं अपना अनुभव बता रहे है श्री अनिलसिंह रेखी


Aniruddha Bapu

ईश्वर के अस्तित्त्व को ही न मानने वाले डॉ. राघव के लडके अविश्रांत का, जानलेवा कैन्सर की बिमारी से, किसतरह सद्गुरु श्री अनिरुद्ध बापू ने जीवन दान दिया, इसी आंप बीती का बयान कर रहे हैं डॉ. अजय राघव




Aniruddha Bapu's Grace - Srijaneeveera D'mello's Experience -  आजीविका का भय सताते ही शायद ख्रिश्चन धर्मिय श्रीजनीवीरा के पति सुचितदादा के कथना नुसार हनुमानचलिसा श्रवण करने लगे और आश्चर्य उनके जन्मदिन १६ जून मंगलवार को ही उन्हे नयी नौकरी मिल गई। सात समुद्र पार ऑस्ट्रेलिया में रह रही श्रीजनीवीरा के पति को स्वप्न दॄष्टांत देकर किसतरह श्रद्धावान बना दिया, बता रही है स्वयं श्रीजनीवीरा डिमेलो


Hindi (हिन्दी) Experience -- Menpalsinh : By The Grace of Aniruddha Bapu

Aniruddha Bapu's Grace - सद्गुरु के प्रति एक श्रद्धावान के विश्वास पर विश्वास करके सद्गुरु की उपासना शुरु करते ही असाध्य रोग भी ठीक होने लगा और आज मैं काफी हद तक ठीक हो गया हूँ, बता रहे है ----- निवासी श्री मेनपालसिंह ।




Hindi (हिन्दी) Experience -- Suparnaveera Sudan : By The Grace of Aniruddha Bapu

Hindi (हिन्दी) Experience -- Suparnaveera Sudan : By The Grace of Aniruddha Bapu :  असह्य वेदना होने पर जैसे ही आर्तभाव से बापू को पुकारा, "बापू अब मुझसे सहा नही जाता, अब आप ही कुछ कीजिये," ठीक उसीसमय ऐसे लगा कि डॉक्टर के भेष में बापू आये और बोले, "थोडी वेदना तो होगी बेटी, परंतु अब सब ठीक हो जायेगा" और कुछ दिनों में ही बापू की कृपा से वे कैसे स्वस्थ हो गयी, बता रही है सुषमावीरा सूडन.


Hindi (हिन्दी) Experience -- Vrundaveera Lala (Part 2) : By The Grace of Aniruddha Bapu

Hindi (हिन्दी) Experience -- Vrundaveera Lala (Part 2) : By The Grace of Aniruddha Bapu : 
सद्गुरू चरणों में पूरा विश्वास रखते हुए सुचितदादा के बचनों का अक्षरश: पालन करने से किसतरह उनकी बेटी की शादी जैसा कठिन कार्य बडी सरलता से और शीघ्रता से हो गया, बता रही है वृंदावीरा लाला.

Aniruddha Bapu : Narration of personal experience by Apurvaveera Rane - 2

Hindi (हिन्दी) Experience -- Apurvaveera Rane - 2: By The Grace of Aniruddha Bapu - "मज सवे जो प्रेमे येईल, त्याचे अशक्य शक्य मी करीन" अर्थात "मेरे पास जो भी प्रेमपूर्वक आयेगा उसके असंभव कार्य को मै संभव बना दूँगा" सद्गुरु अनिरुध्द बापू के इस बचन की साथर्कता बयान करता है अपूर्वावीरा राणे का यह अनुभव ।




Hindi (हिन्दी) Experience -- Pramilaveera Navin: By The Grace of Aniruddha Bapu - Job बदलना पड रहा था और मस्कत चोढ के जाना था । मगर बापू क्रिपासे नया अच्छा Job भी मिला और मस्कत छोडना न पडा । 

Aniruddha Bapu's Grace - Sonchoriveera Ghosh's Experience - शादी के बाद भरा पूरा परिवार कलकत्ता में छोडकर मुंबई आकर अकेलापन महसूस करने वाली सन्चोरीवीरा घोष बता रही है की किसतरह वे अपनी पडोसन के कहनेपर पहली बार बापू के प्रवचनों में गई और प्रवचनों में ही बापू ने उसके सभी प्रश्नों के उत्तर देकर उसे श्रद्धावान बना दिया और जीवन की सारी समस्याये एक एक करके समाप्त हो गई ।



Aniruddha Bapu's Grace - Himaniveera Sircar's Experience - "बचपन से ही आस्तिक रही हिमानीवीरा सरकार जब अपनी स्लीप डिस्क के दर्द से लाचार होकर बिस्तर पर थी तभी उन्हे सदगुरु श्री अनिरुद्ध बापू के बारे में पता चला और अंतिम उपाय के रुप में जैसे ही उन्होंने बापू को याद किया तभी अदॄश्यावस्था में ही आकर बापू ने उन्हें उठने को कहा और वे महीनों बाद स्वयं उठकर चलने लगी, यह गाथा गा रही है श्रीमती हिमानीवीरा सरकार ।




सद्गुरु श्री अनिरुद्ध बापू के दर्शन मात्र से ही जोरदार सिरदर्द एकाएक गायब हो गया जिससे उनके चरणों मे दृढ विश्वास होकर हम सभी लोग बापू मय हो गये और आज हम सब काफी आनंद से जीवन यापन कर रहें हैं, यही अनुभव बता रही है रसिकावीरा गुप्ते


Aniruddha Bapu

सद्गुरु श्री अनिरुद्ध बापू अपने भक्तों का योगक्षेम संभालते ही है और जहाँ पर बापू की पादुकायें रहती हैं वहाँ पर बापू रहते ही हैं इसकी पुष्टि करने वाला अनुभव बता रही है स्वयं शुभा त्रासी





Aniruddha Bapu

सद्गुरु अपने भक्तों को अपने पास तक खींच ही लेते है, पहली बार विश्वासपूर्वक नामस्मरण करते ही किसतरह सद्गुरु अनिरुद्ध बापू ने दो छोटी बच्चियों सहित पूरे परिवार को जान लेवा बिमारी ’स्वाईन-फ्लू’ से बचाया यहीं बता रहे हैं श्री अमितसिंह सिंघल



Aniruddha Bapu

Aniruddha Bapu's Grace - Vanashreeveera Valecha's Experience - सद्गुरु श्री अनिरुद्ध बापू की कृपादृष्टि ही संकट मोचक है, डॉक्टरों के अनुसार कभी भी उठ-बैठ व चल न पा सकने वाले बापू भक्त सुरेश वालेचा कैसे बिल्कुल ठिक हो गये, इसका स्वयं कथन कर रहे है श्री सुरेश वालेचा




Aniruddha Bapu

सद्गुरु अनिरुद्ध बापू पग-पग पर अपने भक्तों के साथ रहते ही हैं और आवश्यकतानुसार उचित व्यवस्था व पथप्रदर्शन करते ही रहते है, इसी आशय का अनुभव कथन कर रहे हैं श्री ओनिलसिंह धीर



Rekhaveera Mohante : By The Grace of Aniruddha Bapu - बापू के सानिध्य में आने के बाद किसी से भी ठीक से बात न कर पाने वाली गॄहिणी स्टेज शो भी कर सकती है , यही बता रही है श्रीमती रेखावीरा मोहन्ती । 









Hindi (हिन्दी) Experience -- Vrushaliveera Kanorde : By The Grace of Aniruddha Bapu

Aniruddha Bapu's Grace - मन:सामर्थ्यदाता सद्गुरु अनिरुद्ध बापू के सानिध्य में आने के बाद आत्महत्या की ---- पर पहुँच चुकी वृषालीवीरा का जीवन किसतरह प्यार से भर गया, मन:सामर्थ्य बढ गया यह स्वयं बता रही वृषालीवीरा कानोर्डे




Hindi (हिन्दी) Experience -- Dr. Jayeshsinh Shah : By The Grace of Aniruddha Bapu

Hindi (हिन्दी) Experience -- Dr. Jayeshsinh Shah : By The Grace of Aniruddha Bapu 









Hindi (हिन्दी) Experience -- Apurvaveera Rane - 1 : By The Grace of Aniruddha Bapu


Hindi (हिन्दी) Experience -- Apurvaveera Rane - 1 : By The Grace of Aniruddha Bapu - "श्रध्दावान भक्त के मन की बात सद्गुरु अनिरुध्द बापू सिर्फ जानते ही नहीं है बल्कि उसकी हर उचित इच्छा पूरी भी करते है" इसी का प्रमाण है अपूर्वावीरा राणे का यह अनुभव ।



Aniruddha Bapu : Narration of personal experience by Animaveera Shettigar

Hindi (हिन्दी) Experience -- Animaveera Shettigar: By The Grace of Aniruddha Bapu - करीबन तिसरी मंजिल से गिरने के बावजूद एक छोटे बच्चे को बिना खरोच, चोट या जख्म होने से सद्गुरुतत्व कृपा कैसे बचाती है, इसकी प्रचिती देनेवाला अनुभव


https://www.youtube.com/watch?v=zUSdw5iRBDg&feature=em-uploademail

Hindi (हिन्दी) Experience -- Pramilaveera Navin: By The Grace of Aniruddha Bapu - ९९% कोमा में गई हुई व्यक्ति को केवल बापु की कृपा से नया जीवन प्राप्त हुआ।

Aniruddha Bapu's Grace - Rana Randhirsingh's Experience - बच्चों की लाईलाज बीमारी के दौरान एक बापूभक्त फ़िजिओ थेरेपिस्ट सुप्रिया से बापू के बारे में पता चला और हम सुचितदादा से मिले। बापू के शरणागत हो गये और आश्चर्य की जिसका कोई इलाज नही था उसका इलाज मिल गया। वो बच्चा उठने, बैठने, और चलने लगा बताते है श्री राणा रणधीर सिंह।




Aniruddha Bapu's Grace - Rupaliveera Banerji's Experience - बचपन से ही कॄष्णभक्त रही रुपालीवीरा बनर्जी बता रही है कि किसतरह बापू के रुप में उनके आराध्य कॄष्ण मिले और जीवन सुचारु रुप से चल रहा है।









Aniruddha Bapu's Grace - Vrundaveera Lala's Experience - दुर्घप्राणघातक घटना में भी बापू अपने श्रद्धावान भक्तों को एक खरोंच तक नही आने देते और बापू हमारे मन की बात प्रवचनों में उजागर करते हैं, बता रही है वॄंदावीरा लाला । 




’कोई भी भाषा माँ और बच्चे के बीच में दीवार नहीं बन सकती’ अनिरुद्ध बापू के इस वाक्य ने किसी भी इन्सान को भगवान न मानने वाले विद्यार्थी को सच्चा भक्त बना कर अनुभव कैसे प्रदान किया इसका वर्णन कर रहे है श्री सुनीलसिंह सुदन




Aniruddha Bapu

सद्गुरु अनिरुद्ध बापू ने कॅन्सर जैसी भयानक बीमारी की पूर्व सांकेतिक सूचना देकर किसतरह उनके प्राणों की रक्षा की, इसका कथन कर रही है स्वयं सुमेधावीरा कुमार...






सद्गुरु श्री अनिरुद्ध बापू ने किसतरह निराशाग्रस्त बाजपेयी परिवार को मन:सामर्थ्य प्रदान कर आत्महत्या से बचाया तथा त्रिपुरारी त्रिविक्रम लॉकेट ने कैसे बचायी प्रेतबाधा से उनकी जान, यह स्वयं बता रहे हैं सत्यप्रसादसिंह बाजपेयी...






Hindi (हिन्दी) Experience -- Rajeshsinh Saraiya : By The Grace of Aniruddha Bapu

भयंकर कार दुर्घटना से किसतरह सहीसलामत बचाया उनके बेटे उमंग को, श्री अनिरुद्ध बापू के नामस्मरण ने, इसी अनुभव का कथन कर रहे हैं श्री राजेश सरैय्या 




११ जुलाई २००६ को हुये मुंबई मे सिरीयल बॉम्बब्लास्ट में घायल मरणासन्न भाई की रक्षा किसतरह से की सद्गुरु अनिरुद्ध बापू ने, इसका बयान कर रही है स्वयं राजेश्वरीवीरा....









Hindi (हिन्दी) Experience -- Kiranveera Shah : By The Grace of Aniruddha Bapu

Hindi (हिन्दी) Experience -- Kiranveera Shah : By The Grace of Aniruddha Bapu - "एक विश्वास असावा पुरता, कर्ता - हर्ता गुरू ऐसा" ऐसे दृढ विश्वास के साथ बापू के पास आने वाले श्रध्दावान भक्तों के जीवन में असंभव को कैसे संभव बना देते है सद्गुरू श्री अनिरूध्द बापू - यहीं आप बीती बता रहीं हैं किरनवीरा शाह.



Hindi (हिन्दी) Experience -- Radhaveera Mohite : By The Grace of Aniruddha Bapu

Hindi (हिन्दी) Experience -- Radhaveera Mohite : By The Grace of Aniruddha Bapu : "जो बात तुझमें है, तेरी तस्वीर में वही" इसी भाव के साथ पूर्ण विश्वास रखकर सद्गुरू का स्मरण करते रहने पर सद्गुरू ने उनको एक जानलेवा बिमारी से कैसे बचाया, बता रही है राधावीरा मोहिते.



Hindi (हिन्दी) Experience -- Chetansinh : By The Grace of Aniruddha

Hindi (हिन्दी) Experience -- Chetansinh : By The Grace of Aniruddha - भयंकर आपदाओं में भी श्रध्दावान भक्त को सद्गुरु अनिरुध्द बापू सुरक्षित तो रखते ही है साथ ही साथ उसे आनंद और लाभ भी प्रदान करतें है, यही दर्शाता है मस्कत निवासी चेतनसिह का यह अनुभव । 


Aniruddha Bapu : Narration of personal experience by Satishsinh Kuri

Hindi (हिन्दी) Experience -- Satishsinh Kuri : By The Grace of Aniruddha Bapu - सद्गुरुतत्व उसके ‘सात समंदरपार रहनेवाले’ भक्त को जॉब बदलते समय आनेवाली कठीनाईंमें कैसे सहाय्यता करता है। भगवान की पवित्र उपासना और भक्ती सद्गुरु कृपा भक्त को उसके कठीण समयसे कैसे बाहर निकालती है और उसकी कृपा को कोई भौगोलिक सीमा नहीं होती इसकी अनुभूती देनेवाला यह सुन्दर अनुभव।
Comments